एम 35 हाई स्पीड स्टील क्या है ?

Categories
Hindi

एम 35 हाई स्पीड स्टील क्या है ?

एम 35 स्टील एक मध्यम और मिश्र धातु वाला हाई स्पीड स्टील होता है इस स्टील को एचएसएसइ या फिर एचएसएस-इ स्टील के नाम से भी जाना जाता है | दरअसल यह स्टील एम 2 के बिलकुल एक समान ही होता है, लेकिन इसमें 5 प्रतिशत तक कोबाल्ट धातु को भी मिलाया जाता है, जो स्टील को गर्म कठोरता और पहनने के प्रतिरोध बेहतर बनाने का कार्य करता है | यह हाई स्पीड स्टील 66 एचआरसी  तक हीट ट्रीटमेंट के लिए उपयुक्त माना गया है और साथ ही यह बेहतरीन कटिंग परफॉर्मेंस भी देती है | हाई स्पीड एम 35  स्टील ब्रोच, टेप, मिलिंग, रीमर, हॉब्स, शॉपर्स, कटर, आरी आदि टूल के लिए उपयुक्त होता है |

एचएसएस एम 35 एक पारंपरिक रूप से निर्माण कोबाल्ट मिश्र धातु का उच्च गति वाला स्टील होता है | विनिर्माण प्रक्रिया के दौरान अलग-अलग चरणों के लिए चुना और नियंत्रित किया जाता है, ताकि कार्बाईड के आकार और वितरण में संदर्भ से एक अच्छी बनावट के साथ-साथ एक अंतिम उत्पाद प्राप्त किया जा सके | एम 35  स्टील से तैयार उपकरण के लिए बेहतरीन फायदेमंद साबित होता है | 

बी.के.स्टील कंपनी ने अपने यूट्यूब में पोस्ट एक यूट्यूब शॉर्ट्स में एम 35  हाई स्पीड स्टील के विशेषताओं के बारे में जिक्र किया है जैसे की :- 

एम 35  हाई स्पीड स्टील की विशेषता क्या है? 

  • वेदांगो से संबंध प्रयोग करने के योग्य 
  • अच्छी मशीन-क्षमता होना 
  • अच्छा प्रदर्शित करना 
  • अच्छी गर्म और कठोरता 

एम 35  हाई स्पीड स्टील आपूर्ति रेंज 

  • एम 35  स्टील का गोला बार:- 2 मिमी – 300 मिमी
  • एम 35  स्टील फ्लैट बार की मोटाई :- 2-20 मिमी X चौड़ाई :- 10-100 मिमी 
  • एम 35  स्टील प्लेट की मोटाई :- 2-200 मिमी क X चौड़ाई 200-610 मिमी 

इससे संबंधित कोई भी जानकारी के लिए आप बी.के.स्टील कंपनी नामक यूट्यूब चैनल पर विजिट कर सकते है, इस चैनल पर इन स्टील से संबंधित विषय पर वीडियो बना कर पोस्ट की हुई है | अगर अपने किसी भी तरह के स्टील को खरीदना या फिर उसके बारे में जानकारी लेना चाहते है तो इसके लिए आप बी.के.स्टील कंपनी से परामर्श भी कर सकते है | यहाँ हर तरह और हर किस्म की ग्रेड वाले स्टील उपलब्ध है |

Categories
Hindi Steel distributor

EN 18 मिश्र धातु इस्पाल स्टील क्या है?

स्टील लोहे और कार्बन के मिश्रण धातु से होता है, जो उच्च तन्यता ताकत पर कम लागत होने के कारण निर्माण और अन्य अनुप्रयोगों में व्यापक के रूप में उपयोग किया जाता है | कार्बन अन्य तत्वों के भीतर और लोहे के भीतर समावेशन कठोरीकरण एजेंट की तरह काम करता है, जो लोहे में मौजूद परमाणुओं के क्रिस्टल जालको में होने वाले विस्थापन के गति को रोकने का कार्य करता है | 

बीके स्टील कम्पनी ने अपने यूट्यूब चैनल में पोस्ट एक शॉर्ट्स के माध्यम से यह बताया कि सामान्य स्टील के मिश्रण धातुओं में कार्बन के वजन का योगदान 2.1 प्रतिशत तक होता है | कई हज़ार वर्षों से स्टील का उत्पादन ब्लोमरी की भट्टियों में किया जाता है, लेकिन आजकल स्टील के निर्माण के लिए कई नए उपकरणों का निर्माण किया गया है | 

आज के दौर में पूरे विश्व में सबसे ज्यादा आम सामग्रियों में से एक स्टील को माना गया है, जिसका सालाना उत्पादन करीब 1.3 बिलियन टन से भी अधिक होता है | स्टील का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल इमारतों में, बुनियादी ढांचों में, उपकरणों के निर्माण में, जहाज के निर्माण में, ऑटोमोबाइल मशीन और हथियार जैसे तकनीक में किया जाता है | आजकल के स्टील को आमतौर पर मिश्रित मानक सगठनों में परिभाषित विभिन्न ग्रेड पहचाना जा सकता है | 

 

बीके स्टील कम्पनी ने यह भी बताया की उनके पास हर ग्रेड के स्टील अच्छी क्वालिटी में मौजूद है, जो महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों में अपना बेहतर प्रदर्शन देने में सक्षम है, जैसे की क्रैंकशाफ्ट में, अक्सी बीम्स आदि | स्टील की गुणवत्ता के प्रति यह प्रतिबद्धता के प्रीमियम सामग्री को अच्छी तरह से सुनिश्चित करते है, फिर ही यह अपने ग्राहकों को सप्लाई करते है | 

यह भारत में EN 18 मिश्र धातु इस्पाल स्टील का सबसे अधिक निर्माण करते है, जिसका निर्यात पूरे विश्व भर में किया जाता है | बीके स्टील कम्पनी EN 18 मिश्र धातु इस्पाल स्टील और कई अन्य तरह के उत्पादों के भी निर्माण करती है | अगर इससे जुड़ी कोई भी जानकारी लेना चाहते हो तो आप बीके स्टील कंपनी का चयन कर सकते है , यह संस्था में हर तरह के स्टील के ग्रेड और अन्य उत्पादों मौजूद है |